Categories
Mirza Ghalib Shayari

Top 10 Best Mirza Ghalib Hindi Shayari.

The great poet Mirza Ghalib has left a very big mark in the world of Ghazal and Shayari.

Mirza Ghalib is an Indian famous poet or Shayar. Mirza Ghalib Poetry / Shayari of Mirza is read by Indians, Pakistanis, Bangladeshi, and many other Indian neighbors.

It is believed that the most Shayaris in the world of Shayari/Poetry has been written and sung by Mirza Ghalib.

Today we are going to share with you the Poems/Shayaris who sung and written by him.

If you like or like these of poetry/Shayari, please share this post and that poetry with your friends and family.

Hindi Shayari by mirza ghalib
Hindi Shayari By Mirza Ghalib

Mirza Ghalib Poetries.

No. 1 – 5

रंज Se ख़ूगर हुआ इंसाँ Wo मिट जाता है रंज |

मुश्किलें मुझ Par पड़ीं इतनी Ki आसाँ हो गईं ||

#1

Ranj se khoogar hua insaan to mit jaata hai ranj |
Mushkilen mujh par padeen itanee ki aasaan ho gaeen ||

Hai और भी दुनिया Mai सुख़न-वर बहुत अच्छे |

कहते Hai कि ‘ग़ालिब’ का Hai अंदाज़-ए-बयाँ और ||

#2

Hain aur bhee duniya mein sukhan-var bahut achchhe |
Kahate hain ki gaalib ka hai andaaz-e-bayaan aur ||

बाज़ीचा-ए-अतफ़ाल Hai दुनिया Mere आगे |

Hota है शब-ओ-रोज़ तमाशा Mere आगे ||

#3

Baazeecha-e-atafaal hai duniya mere aage |
Hota hai shab-o-roz tamaasha mere aage ||

रेख़्ते Ke तुम्हीं उस्ताद नहीं Ho ‘ग़ालिब’ |

कहते Hai अगले ज़माने Me कोई ‘मीर’ भी था ||

#4

Rekhte ke tumheen ustaad nahin ho gaalib |
Kahate hain agale zamaane mein koee meer bhee tha ||

Dard मिन्नत-कश-ए-दवा Na हुआ |

मैं Na अच्छा हुआ Na बुरा हुआ ||

#5

Dard minnat-kash-e-dava na hua |
Main na achchha hua bura na hua ||

Mirza Ghalib Shayari With Image.

No. 6 – 10

Mirza Ghalib Hindi Shayari
Mirza Ghalib Hindi Shayari

Mirza Ghalib Shayari In Hindi And English.

रगों Me दौड़ते फिरने Ke हम नहीं क़ाइल |

जब आँख ही से Na टपका To फिर लहू क्या है ||

#6

ragon mein daudate phirane ke ham nahin qail |
jab aankh hee se na tapaka to phir lahoo kya hai ||

ये न थी Hamari क़िस्मत Ki विसाल-ए-यार होता |

अगर और जीते रहते Yahi इंतिज़ार होता ||

#7

ye na thee hamaaree qismat ki visaal-e-yaar hota |
agar aur jeete rahate yahee intizaar hota ||

आह Ko चाहिए इक उम्र असर होते तक |

कौन जीता Hai तिरी ज़ुल्फ़ Ke सर होते तक||

#8

aah ko chaahie ik umr asar hote tak |
kaun jeeta hai tiree zulf ke sar hote tak||

न था कुछ To ख़ुदा था कुछ Na होता तो ख़ुदा होता |

डुबोया मुझ Ko होने ने न होता Mai तो क्या होता||

#9

na tha kuchh to khuda tha kuchh na hota to khuda hota |
duboya mujh ko hone ne na hota main to kya hota||

बस-कि दुश्वार Hai हर काम Ka आसाँ होना |

आदमी Ko भी मयस्सर नहीं इंसाँ होना||

#10

bas-ki dushvaar hai har kaam ka aasaan hona |
aadamee ko bhee mayassar nahin insaan hona||

Top 10 Evergreen Shayaris Of Mirza Ghalib With Hindi Meaning.

दोस्तों मिर्ज़ा असदुल्लाह बेग ख़ान ग़ालिब उर्दू के सबसे ख़ास शायर हैं। उर्दू साहित्य इनके बिना अधूरा है।

आज भी उर्दू शायरी का ज़िक्र होते ही ग़ालिब का नाम सबसे पहले आता है।

आज हम लेकर आए हैं मिर्ज़ा ग़ालिब की सबसे लोकप्रिय शायरी जो आज भी ज़िंदा है।

Mirza Ghalib’s 10 Shers With Hindi Meanings.

Read Latest News On Ekumkum.com.

Note.:

महान कवि मिर्ज़ा ग़ालिब ने ग़ज़ल और शायरी की दुनिया में बहुत बड़ी छाप छोड़ी है।

मिर्ज़ा ग़ालिब एक भारतीय प्रसिद्ध कवि Aur शायर हैं। मिर्ज़ा ग़ालिब कविता / मिर्ज़ा की शायरी भारतीयों, पाकिस्तानियों, बांग्लादेशियों और कई अन्य भारतीय पड़ोसि Deshon Ke Logon द्वारा पढ़ी जाती है।

यह माना जाता है कि शायरी / Urdu कविता की दुनिया में सबसे ज्यादा शायरी मिर्जा गालिब द्वारा लिखी और गाई गई है।

आज Hamne आपके साथ उनके द्वारा गाए और लिखे गए Poems / Shayaris को साझा Kiya हैं।

अगर आपको ये शायरी Aur Post पसंद Aayi Hai तो कृपया इस पोस्ट और उस शायरी को अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर Kar Hame Support Kare।


Read Latest News On Ekumkum.com.

Top 10 Best Mirza Ghalib Hindi Shayari.

The great poet Mirza Ghalib has left a very big mark in the world of Ghazal and Shayari.

URL: https://hindishayaristatus.in/hindi-shayari-by-mirza-ghalib/

Author: Mirza Ghalib

Editor's Rating:
4.5

2 replies on “Top 10 Best Mirza Ghalib Hindi Shayari.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *